प्रोफेसर डॉ० रमा कान्त को रॉयल कॉलेज ऑफ़ सर्जन्स् ने मानद् एफ०आर०सी०एस० प्रदान किया

प्रोफेसर डॉ० रमा कान्त को रॉयल कॉलेज ऑफ़ सर्जन्स् ने मानद् एफ०आर०सी०एस० प्रदान किया
प्रोफेसर डॉ० रमा कान्त से पहले, मदर टिरेसा १९९४, नेलसन मन्डेला १९९५, भूतपूर्व अमरीकी राष्ट्रपति जिमी र्काटर, आदि भी मानद् एफ०आर०सी०एस० आइरलैण्ड, से सम्मानित हो चुके हैं

रॉयल कॉलेज आफ सर्जन्स आइरलैण्ड ने छ०शा०म० चिकित्सा विश्वविद्यालय के सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर डॉ० रमा कान्त को मानद् एफ०आर०सी०एस० उपाधि से अलंकृत किया। यह रॉयल कॉलेज आफ सर्जन्स आइरलैण्ड का दीक्षान्त समारोह आइरलैण्ड की राजधानी में सम्पन्न हुया जहॉ अध्यक्ष डॉ० इलिस मेकगोवर्न ने प्रोफेसर डॉ० रमा कान्त को मानद् उपाधि से सम्मानित किया।

बृहस्पतवार १५ जुलाई को आइरलैण्ड में भारतीय दूतावास ने भी प्रो० डॉ० रमा कान्त को आमंत्रित किया है।

प्रो० डॉ० रमा कान्त को वर्ष २००५ में विश्व स्वास्थ्य संगठन के महानिदेशक ने अंतर्राष्ट्रीय पुरूस्कार से सम्मानित किया था। प्रो० डॉ० रमा कान्त, एसोसिएशन आफ सर्जन्स् आफ इण्डिया के उ०प्र० इकाई के अध्यक्ष हैं, और लखनऊ कॉलेज आफ सर्जन्स् का भी नेतृत्व कर रहे हैं।

मानद् उपाधि के साथ प्रोफेसर डॉ० रमा कान्त १७ जुलाई को भारत वापस लौट रहे हैं।

No comments: