इम्फाल मणिपुर में सुप्रसिद्ध मानवाधिकार सामाजिक कार्यकर्ता डॉ संदीप पाण्डेय अनिश्चितकालीन उपवास पर

इम्फाल मणिपुर में सुप्रसिद्ध मानवाधिकार सामाजिक कार्यकर्ता डॉ संदीप पाण्डेय अनिश्चितकालीन उपवास पर


जन आंदोलनों के राष्ट्रीय समन्वय के राष्ट्रीय समन्वयक डॉ संदीप पाण्डेय ने इरोम शर्मीला कुनबा लूप जो पिछले ८ सालों से अनशन पर है, उसके समर्थन में और राज्य सरकार की संवेदनहीनता के विरोध में चल रहे उपवास में भाग लिया।

युंग होरिजोन मणिपुर, लैरिक्येंग्बम लिकी नुपी समाज कोहुखत लूप और ह्यूमन देवेलोप्मेंट संसथान, लैरिक्येंग्बम आदि ने यह धरना आयोजित किया था।

डॉ संदीप पाण्डेय ने कहा कि मणिपुर के लोगों के लिए आर्म्ड फोर्सेस स्पेशल प्रोटेक्शन एक्ट (AFSPA) एक दुर्भाग्यपूर्ण एक्ट रहा है और राज्य नेताओं की चुप्पी नि:संदेह शर्मनाक है। पिछले ८ सालों से अधिक समय से इरोम शर्मीला उपवास पर हैं और राज्य नेताओं ने अभी तक कोई ठोस कदम नही उठाया है।

राज्य सरकार को इस एक्ट को ख़तम करने के लिए एक तारिख तय कर देनी चाहिए, यदि वोह तुंरत इस एक्ट को नही ख़तम करना चाहते हैं, कहना है डॉ संदीप पाण्डेय का।

No comments: