काकिनाडा में SEZ के लिए लोगों पर सरकार का जबरदस्त दबाव

काकिनाडा में SEZ के लिए लोगों पर सरकार का जबरदस्त दबाव


पिछले तीन दिनों से आंध्र प्रदेश के पूरबी गोदावरी जिलों में कोथापल्ली और थोंग्दंगी मंडल में सरकार द्वारा प्रायोजित भय और आतंक का माहौल छाया हुआ है। सरकार यहाँ पर SEZ (Special Economic Zone) या विशेष आर्थिक छेत्र स्थापित करने पट डटी हुई है।

रेवेनुए विभाग के अधिकारी, पुलिस, जमीन व्यापारियों के ब्रोकर या बिचोलिये जो जबरन लोगों की जमीनें खरीद रहे हैं और SEZ अधिकारियों के लिए जमीन को घेर रहे हैं।

aधिकारी लोगों को धमका रहे हैं, भ्रमित करने वाली जानकारी दे रहे हैं जिससे लोग जमीन बेचने के लिए विवश हो जाये।

यह के किसान जमीन हथियाने का प्रयास को निष्फल करते रहे हैं। पहले भी सरकार की भरसक कोशिश के बावजूद सितम्बर २००७ में किसानों ने जमीन पर कब्जा नही करने दिया था। यह के किसानों के पास प्रदेश के मनाव्धिकार आयोग का आर्डर या आदेश है जिसके मुताबित प्रदेश सरकार को कोई भी बहलाने फुसलाने जैसा अनुचित तरीका नही इस्तिमाल करना चाहिऐ जमीन पर कब्जा बनने के लिए। ११० किसानों ने प्रदेश के मनाव्धिकार आयोग में अफ्फिदावित दाखिल किये थे. ७ फरवरी २००८ को अगली सुनवाई है। जो पत्थर और खंभे अधिकारियों ने SEZ के लिए जमीन घेरने के लिए खडे किये थे, लोगों ने हटा दिए हैं और जबरदस्त रोष प्रकट किया है. यह के लोग २००५ से जबसे SEZ की बात हो रही है, तब से इसका भरसक विरोध किया हैं.

स्थानिये समाचार पत्रों के मुताबिक जो अधिकारियों द्वारा प्रभावित हैं और दबा में हैं, उनमे लोगों के खिलाफ खबर छाप रही है कि लोगों ने लाखों की प्रोपर्टी को नुकसान पहुचाया। भारतीय पेनल कोड के तहत सेक्शन १४८, ४४७, ४२७, ५०६, १४९ आदि के tahat सूर्य नारायण मुर्थी, नारायणा स्वामी और गंगा धर के खिलाफ केस दाखिल किया गए हैं। पुलिस सुबह ४ बजे उनके घर गयी और इन लोगों को गिरफ्तार कर लिया. राजेंद्र, जो SEZ के खिलाफ बैठकों को आयोजित करता रह हैं, उसको भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और ३१ जनवरी २००८ तक जुदिसिअल रेमंड पर भेज दिया गया है। लगभग १५० किसानों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पूरबी गोदावरी जिले के दोनो मंडल में सेक्शन १४४ लागू कर दिया गया है। हर तरफ पुलिस भय और आतंक का वातावरण बनती दिखाई दे रही है। जमीन को घेरने का काम फिर से कायम हो गया है और कोई भी गाड़ी बाहर से अन्दर नही जा सकती है. जिला कलेक्टर का केगने है कि प्रदेश मनाव्धिकार आयोग ने ये नही खा है कि सरकार SEZ स्थापित करने के अपने काम को रोक दे और आगे न बढाये। जिला कलेक्टर के अनुसार जब सरकार शांति पूर्वक अपना काम कर रही है, लोग हिंसक होर रहे हैं और विरोध कर रहे हैं।

आन्ध्र प्रदेश सरकार का ये कायरता भरा और छल कपट भरा कार्य की नि:संदेह निंदा होनी चाहिऐ।

कृपया कर के अपने विरोध पत्र नीचे दिए गए सम्पर्क सूत्र पर भेजे और लोगों के लिए समर्थन जाहिर करें:

प्रदेश मनाव्धिकार आयोग
Fax No.: 040 24601573 (Chairperson Retd. Justice Subhashan Reddy)

Chief Secretary, Andhra Pradesh
Fax: 040 23453700

Chief Minister, Rajashekhar Reddy
Fax: 040 23452498, 23410555

Governor, A.P., Fax: 040 23312650

District Collector, East Godavari, Fax: 0844 2353480, e-mail: collector_eg@ap.gov.in

जन आंदोलनों का राष्ट्रीय समन्वय
सम्पर्क: राम कृष्ण राजू

Contact: Ram Krishna Raju, 09866887299, Pawan, 09490430944, 040 27228316

No comments: