भारत-अमरीका परमाणु संधि के विरोध में छात्रों द्वारा अनिश्चितकालीन अनशन शुरू

भारत-अमरीका परमाणु संधि के विरोध में छात्रों द्वारा अनिश्चितकालीन अनशन शुरू

परमाणु शक्ति के विरोध में छात्र [Students Against Nuclear Power (SANP)] के सदस्य छात्र दिल्ली में आज (१० मार्च २००८) को ४ बजे दोपहर से अनिश्चितकालीन अनशन आरंभ करेंगे. कई प्रमुख सामाजिक कार्यकर्ता, प्रख्यात पत्रकार आदि भी इनके साथ शामिल होंगे.

SANP केरला के देवगिरी में स्थित सैंट जोसेफ कॉलेज से सामाजिक कार्यों में मास्टर्स कर राहे छात्रों का संगठन है.

इन छात्रों की मांग है की भारत इस परमाणु संधि को निष्फल करे और भंग करे.

प्रसिद्ध लेखक सूसन जॉर्ज (ट्रांस्नाशनल इन्स्तितुते, एम्सटर्डम), वरिष्ठ पत्रकार प्रफुल बिद्वाई, रमोन मग्सय्सय पुरुस्कार प्राप्त सामाजिक कार्यकर्ता डॉ संदीप पाण्डेय आदि भी शामिल होंगे.

इस उपवास से छात्रों का मानना है की लोगों में जागरूकता बढेगी और सामाजिक चेतन भी की भारत-अमरीका परमाणु संधि से गंभीर सामाजिक, आर्थिक, राजनितिक और पर्यावरण पर प्रभाव पद सकते हैं.

इस उपवास के माध्यम से अन्य वकाल्पिक उर्जा के स्रोत के बारे में भी जानकारी बढेगी, जैसे की वायु उर्जा, बियो-गैस और फोटो-वोल्तैक केन्द्र इतियादी.

“भारत-अमरीका परमाणु संधि हमारे देश के विकास और स्वलंबन के साथ समझौता है” कहना है सांप सदस्यों का.

अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करें:

टोमी जैकब (समन्वयक), दिल्ली: ९९९०१६६९७५

रंजित क, कालिकुत: ९९४६०२५०१५

दिव्या क, कालिकुत: ९४४६३२००३८

या

श्री प्रकाश, दिल्ली: ९८७१८८०६८६


परमाणु शक्ति के विरोध में छात्र

स्टूडेंट्स अगेंस्ट नुक्लेअर पॉवर (SANP)

ईमेल: sanpindia@gmail.com



No comments: