हरदोई के लोगों को ३२ साल से जमीन नहीं मिली है

हरदोई के लोगों को ३२ साल से जमीन नहीं मिली है

२८ जुलाई से १६ लोग विधान सभा लखनऊ के सामने अनशन पर


ग्राम पंचायत जाजपुर, तहसील संडीला, जिला हरदोई के १०७ परिवारों को ३२ साल से जमीन के पट्टे तो मिल गए थे, परन्तु जमीन पर कब्जा अब तक नही मिल पाया है. इस छेत्र के दबदबे वाले परिवार ने इस जमीन पर कब्जा कर रखा है. इन परिवारों से १६ लोग लखनऊ में विधान सभा के सामने २८ जुलाई २००८ से न्याय की मांग करते हुए अनशन पर हैं.

मग्सय्सय पुरुस्कार से सम्मानित सामाजिक कार्यकर्ता डॉ संदीप पाण्डेय जो जन आंदोलनों का राष्ट्रीय समन्वय के समन्वयक हैं, उन्होंने इस आन्दोलन को समर्थन देते हुए प्रदेश सरकार से बिना विलंब न्याय की मांग की.

इस ग्राम पंचायत के ग्राम प्रधान advocate नागेश्वर सिंह भी इसी दबदबे वाले परिवार से हैं जिसने इन १०७ लोगों की जमीन पर गैर-कानूनी ढंग से पिछले ३२ सालों से जबरन कब्जा कर रखा है.

जाहिर है कि यह दबदबे वाले परिवार के राजनितिक संबंधों की वजह से लोगों के तमाम प्रतिरोध के बावजूद भी यह परिवार १०७ लोगों की जमीन पर पिछले ३२ सालों से कब्जा रखने में सफल रहा है.

यह दबदबे वाला परिवार, लोगों के खेत से फसल तक जबरदस्ती काटता रहा है.

यहाँ के लेखपाल लोगों की मदद करने की बजाय २००० रुपया रिश्वत मांग रहे हैं.

लखनऊ में विधान सभा के सामने २८ जुलाई से अनशन पर बैठे १६ लोगों को एस.डी.ऍम ने आश्वासन दिया है कि पुलिस कारवाई करेगी और कानूनन हकदारों को जमीन पर कब्जा मिलेगा. परन्तु लोग पिछले ३२ सालों से इतने हताश हैं कि मौखिक आश्वासन से संतुष्ट नही होंगे.

लखनऊ में विधान सभा के सामने अनशन पर बैठे लोगों का नेतृत्व कर रहे हैं राजेश, जिनसे ९७९३२७१९३० पर संपर्क किया जा सकता है.

1 comment:

Anonymous said...

Rajesh Jee
we r with u. carry on. it is a fight of RIGHTS