दलित प्रत्याशी की हत्या की सी.बी.आई जांच हो

दलित प्रत्याशी की हत्या की सी.बी.आई जांच हो

दुर्भाग्यवश अम्बेडकर जयंती की पूर्व संध्या पर जौनपुर से इंडियन जस्टिस पार्टी के दलित प्रत्याशी बहादुर लाल सोनकर की संदिग्ध परिस्थितियों में हत्या अत्यंत चिंताजनक कृत्य है.

राजनीति में बढ़ते अपराधीकरण का
लोक राजनीति मंच विरोध करता है. मीडिया रपट के अनुसार, इंडियन जस्टिस पार्टी ने कहा है कि बहादुर लाल को बहुजन समाज पार्टी के प्रत्याशी धनन्जय सिंह और कुछ वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से जान से मारने की धमकियाँ मिल रही थीं, जो उसको आगामी लोक सभा चुनाव से अपना नामांकन वापस लेने के लिए दबाव बना रहे थे.

लोक राजनीति मंच की मांग है कि इस हादसे की सी.बी.आई जांच हो और जो लोग बहादुर लाल की मृत्यु के लिए जिम्मेदार हैं उनके ख़िलाफ़ उपयुक्त करवाई हो.

बहादुर लाल जौनपुर के एक दलित नेता थे. प्रशासन को बहादुर लाल ने इन जानलेवा धमकियों के बारे में अवगत कराया था और उपयुक्त सुरक्षा की मांग भी की थी परन्तु न तो सुरक्षा दी गई और न ही धमकी देने वालों के प्रति कोई करवाई हुई.

हमारा मानना है कि अपराधिक पृष्ठभूमि के लोगों को राजनीति में कोई जगह नहीं मिलनी चाहिए. हम सब की मांग है कि इस हादसे की सी.बी.आई जांच हो और जो लोग इसके लिए जिम्मेदार हैं उनके ख़िलाफ़ सख्त करवाई हो.

एस.आर दारापुरी
(लखनऊ से लोक राजनीति मंच के प्रत्याशी), डॉ संदीप पाण्डेय (सदस्य, राष्ट्रीय अध्यक्षीय मंडल, लोक राजनीति मंच), राम सागर (मिश्रिक से लोक राजनीति मंच के प्रत्याशी)

No comments: